कैसै बताऊं तुम्हे? 

क्यों खोया रहता हूं तम्हारे ख्वाब में?

क्यों डूबा रहता हूं तुम्हारी याद में?

कैसे बताऊं तुम्हे?

.

क्यों करता हूँ मुहोब्बत तुमसे?

रोता हूँ क्यों तम्हारे प्यार में?

कैसे बताऊं तुम्हे?

.

रातों की नींद उड़ाती हो क्यों?

दिन का चैन चुराती हो क्यों?

दूर होने से तुमसे,

ये बेपरवाह दिल तम्हारी परवाह करता है क्यों?

कैसे बताऊं तुम्हे?

.

तुम्हे देख कर क्यों हो जाता मदहोश?

तुम्हारे बारे में सोच क्यों उड़ जाते होश?

जाने क्यों हो तुम ताबीर मेरी?

कैसे बताऊं तुम्हे?

.

क्यों तुम्हारी जुल्फों में खो जाता हूं?

क्यों डूब जाता हूं तम्हारे नैनों में?

क्यों फ़िदा हूँ तुम्हारी एक मुस्कान पर?

कैसे बताऊं तुम्हे?

.

क्यों सब कुछ अच्छा लगता था जब थी तुम पास मेरे?

क्यों तनहा हुआ जब हो गयी दूर तुम?

क्यों नहीं सम्भलता ये दिल बिन तुम्हारे?

कैसे बताऊं तुम्हे?

.

क्यों तुम किसी और की हो गयी?

क्यों दिल तोड़ तुम मुझे तनहा कर गयी?

क्यों जी रहा हूँ तम्हारे बिना?

कैसे बताऊं तुम्हे?

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s